SEO क्या है और क्यों जरुरी है – पूरी जानकारी

SEO क्या है और क्यों जरुरी है - पूरी जानकारी

SEO क्या है, आज इस पोस्ट मे हम यही जानने वाले हैं| अगर आपने अभी ब्लॉग्गिंग करना शुरू किया है या फिर आप ऑनलाइन मार्केटिंग मे अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपने SEO का नाम तो जरुर सुना ही होगा और आप जरुर अब ये जानना चाहते होंगे की ये SEO क्या है इसके बारे मे detail मे जानना चाहते होंगे तो आप बिलुकल सही जगह पर आये हैं|

आज के इस पोस्ट मे, मैं आपको SEO के बारे पूरी जानकारी देने वाला हूँ| आज के समय मे किसी भी बिज़नेस को प्रमोट करने के लिए ऑनलाइन एक बेस्ट platform बन चूका है | और ऑनलाइन मार्केटिंग मे SEO का एक बहुत ही important रोल होता है| ये मान लीजिये बिना SEO के आप ऑनलाइन अपने बिज़नेस को successfully कभी भी प्रमोट नही कर पाओगे | चाहे आप एक ब्लॉगर हो या फिर किसी भी वेबसाइट के ओनर SEO आपके के लिए बहुत ही important factor है, ऑनलाइन अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर बहुत सारा आर्गेनिक ट्रैफिक लाने का |

SEO क्या है

SEO का पूरा नाम सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (search engine optimization) है, SEO एक process है अपने ब्लॉग आर्टिकल या वेबसाइट को गूगल के फर्स्ट पेज पर लाने का | जिससे आपके वेबसाइट या ब्लॉग का ट्रैफिक increase होता है | और आप सभी ये तो जानते ही होंगे की किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट के लिए ट्रैफिक आना कितना इम्पोर्टेन्ट है | बिना ट्रैफिक के आपके ब्लॉग या वेबसाइट का कोई मतलब ही नही है |

SEO को complete समझने के लिए पहले हमको ये भी जानना बहुत जरुरी है की आखिर सर्च इंजन क्या है और ये कैसे काम करता है |

SEO क्या है और क्यों जरुरी है - पूरी जानकारी
SEO क्या है और क्यों जरुरी है – पूरी जानकारी

सर्च इंजन क्या है

सर्च इंजन एक डायरेक्टरी की तरह होता है जहाँ हम अपनी कोई query सर्च करते हैं और हमे अपने query से related answer मिलते हैं| इन्टरनेट की दुनिया मे गूगल और Bing दो सबसे बड़े सर्च इंजन हैं और सबसे ज्यादा लोग Google पर ही अपनी query सर्च करते हैं| इसलिए हम भी यहाँ पर गूगल की ही बात करेंगे|

For example: हम गूगल पर सर्च करते हैं SEO क्या है, तो हमे गूगल के फर्स्ट पेज पर लगभग 10 अलग-अलग links देखने को मिलते हैं जो basically अलग-अलग ब्लॉग के आर्टिकल होते हैं जिन्होंने SEO के बारे पोस्ट लिखा होता है | गूगल पर जो ये links हमे जिस पेज पर दिखते हैं उस पेज को SERP (सर्च इंजन रिजल्ट पेज) कहा जाता है |

सर्च इंजन काम कैसे करता है

तो आप ये तो समझ गये की गूगल एक सर्च इंजन है जिस पर हम किसी भी टॉपिक के बारे मे सर्च करके जानकारी ले सकते हैं | लेकिन अब सवाल ये आता है की गूगल कैसे कुछ ही सेकंड मे हमारे किसी भी सवाल से रिलेटेड answer हमे दे देता है | क्या गूगल खुद ही सारे answer लिख के रखता है, नही गूगल ऐसा कुछ भी नही करता बल्कि होता ये है की मै या आप जैसे कई ब्लॉगर अलग-अलग टॉपिक के बारे मे ब्लॉग बनाते हैं और उस पर पोस्ट लिखते हैं |

इसी तरीके से कई बिज़नेस वाले लोग अपने बिज़नस से रिलेटेड websites बनाते हैं| और ये सभी ब्लॉगर या वेबसाइट owner को अपने ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल मे सबमिट करना होता हैं | जिसके लिए गूगल ने अपना ही एक अलग प्लेटफार्म Google search console बनाया है |

आज के समय मे गूगल मे लगभग 1.6 billion  से भी ज्यादा वेबसाइट सबमिट हैं | जो अलग-अलग टॉपिक से रिलेटेड हैं, तो जब भी कोई person गूगल पर कुछ भी सर्च करता है तो गूगल के कुछ क्रॉलर होते हैं| क्रॉलर basically एक रोबोट टाइप्स के होते हैं जो अलग-अलग वेबसाइट पर विजिट करते हैं और जानने की कोशिश करते हैं की आखिर ये वेबसाइट या ब्लॉग किस चीज़ के बारे मे बता रहा है और साथ ही ये वेबसाइट या ब्लॉग की क्वालिटी कैसी है और इसके अलावा भी कई सारी चीजें गूगल के ये क्रॉलर वेबसाइट और ब्लॉग मे सर्च करते हैं | और इसके बाद ये क्रॉलर उन टॉप 10 रिजल्ट्स को आपके सामने दिखाते हैं जो आपके query से रिलेटेड बेस्ट answer आपको दे सकते हैं | तो यही पूरा सर्च इंजन का काम होता है | I hope आपको सर्च इंजन के बारे अब अच्छे से समझ आ ही गया होगा |

अब आपको SEO को समझने मे काफी आसानी होगी क्योंकि आपने सर्च इंजन का फंडा समझ लिया है | हम जो ब्लॉग या वेबसाइट owner होते हैं हमारी कोशिश हमेशा यही होती है की हमारी ब्लॉग का आर्टिकल या हमारी वेबसाइट का पेज हमेशा गूगल के फर्स्ट पेज के फर्स्ट पोजीशन पर आये जिससे हमे सबसे ज्यादा ट्रैफिक मिले| और अपने ब्लॉग के पोस्ट या वेबसाइट के पेज को गूगल के फर्स्ट पेज लाने के लिए हमे SEO करना पड़ता है |

मतलब हमे अपने ब्लॉग के पोस्ट या फिर वेबसाइट के पेज पर कुछ ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं जिन्हें लोग गूगल पर सर्च कर रहे हैं ऐसे शब्दों को टेक्निकल भाषा मे कीवर्ड कहा जाता है | for example:- काफी सारे लोग गूगल पर SEO क्या है सर्च करते हैं तो SEO क्या है एक कीवर्ड है | जिसका हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर कुछ खास जगह पर use करके गूगल के फर्स्ट पेज पर आ सकते हैं क्योंकि जब आप SEO क्या है इस particular कीवर्ड को अपने ब्लॉग पोस्ट मे इस्तेमाल करते हो तो, जो गूगल के क्रॉलर हैं वो आसानी से समझ सकते हैं की आपने SEO के बारे में कुछ लिखा है और क्रॉलर आपके ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च इंजन मे show करा सकते हैं |

हालंकि इसके अलावा भी कई सारी चीजें SEO के अंदर आती हैं जिन्हें मै आपको नीचे बताने वाला हूँ| लेकिन अभी हम ये पहले समझते हैं की SEO क्यों जरुरी हैं |

SEO क्यों जरुरी है |

1- SEO की हेल्प से आपको फ्री मे एक बहुत बड़ी संख्या मे अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए आर्गेनिक ट्रैफिक मिलता है |

2- गूगल के सर्च इंजन के through जितने भी लोग आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर आते हैं वो actual मे वही लोग होते हैं जिन्हें आपके पोस्ट रीड करने मे या आपके वेबसाइट को विजिट करने मे इंटरेस्ट होता है इससे आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर लोग काफी टाइम भी स्पेंट करते हैं जिससे आप उन् लोगों के बीच मे एक trust बना सकते हो |

3- किसी भी बिज़नस वेबसाइट का अगर SEO अच्छा होता है तो उस business website पर प्रोडक्ट की सेल Highरहती है |

4- लम्बे समय तक अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने के लिए SEO बहुत ही Important factor है |

5- आज के टाइम पर लोग अपना सबसे ज्यादा टाइम इन्टरनेट use करने मे बिताते हैं, उसमे से सभी लोग गूगल पर ही सबसे ज्यादा सर्च करते हैं | इसलिए SEO करके अगर हम गूगल के फर्स्ट पेज पर आते हैं तो हमे बहुत ज्यादा ट्रैफिक मिल सकता है |

 SEO कितने प्रकार के होते हैं

अब आपने ये तो समझ लिया की SEO क्या है| अब हम seo कितने प्रकार के होते हैं ये जानने वाले हैं | SEO basically दो प्रकार के होते हैं |

1- on page SEO

2- off page SEO

1- On page SEO

On page SEO के जरिये हम अपने वेबसाइट या ब्लॉग के अंदर ही कुछ ऐसे जरुरी changes करते हैं की जिससे हमारा ब्लॉग का आर्टिकल या वेबसाइट गूगल के फर्स्ट पेज के फर्स्ट पोजीशन पर आ जाये |

आपको मै ये भी बता दूँ की जो गूगल के फर्स्ट three पोजीशन पर रहते हैं उन्हें सबसे ज्यादा ट्रैफिक मिलता है इसलिए हमेशा अपने ब्लॉग आर्टिकल या वेबसाइट को गूगल के फर्स्ट पेज के फर्स्ट पोजीशन पर लाने की कोशिश करें

On page SEO मे हम कुछ important factor को ध्यान मे रखते हैं जो मै आपको नीचे बता रहा हूँ |

Keyword ka use

On page SEO मे सबसे ज्यादा इम्पोर्टेन्ट होता है प्रॉपर कीवर्ड रिसर्च और फिर पोस्ट मे सही जगह पर कीवर्ड का इस्तेमाल करना | कीवर्ड वो शब्द होते हैं जिनको हम सभी लोग गूगल पर सर्च करने के लिए इस्तेमाल करते हैं | for example: जैसे मुझे एक earphone ऑनलाइन buy करना है तो मे गूगल मे सर्च करूँगा बेस्ट earphone ऑनलाइन तो ये एक कीवर्ड कहलाता है |

अब एक ब्लॉगर के लिए पोस्ट लिखने से पहले सबसे ज्यादा इम्पोर्टेन्ट ये होता है की वो पहले सही कीवर्ड का खोज करें जिसके लिए गूगल पर काफी सारे paid और फ्री टूल उपलब्ध हैं | फ्री टूल मे गूगल कीवर्ड प्लानर इसके अलावा Neilpatel जी का ubersuggest सबसे बेस्ट कीवर्ड research टूल में से एक हैं |

कीवर्ड को रिसर्च करने के बाद जब हम पोस्ट लिखते हैं तो हमे पोस्ट के टाइटल मैं पोस्ट के यूआरएल और और पोस्ट के हैडिंग में इसके अलावा पोस्ट के फर्स्ट और लास्ट para में अपने एस कीवर्ड का इस्तेमाल करना होता है |

Blog ki loading speed

On page SEO मे हम अपने वेबसाइट या ब्लॉग की loading speed को कम करने का प्रयास करते हैं | इसके लिए हम पोस्ट पर इस्तेमाल होने वाले images को compress करते हैं और सिर्फ जरुरी plugin का ही इस्तेमाल करते हैं इसके साथ ही अपने वर्डप्रेस ब्लॉग से सारी खराब पड़ी files को remove कर सकते हैं |

हमारी ब्लॉग की loading speed जितनी कम होगी हमारे chances उतने ज्यादा होंगे गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक होने के |

ब्लॉग का डिजाईन

हमे अपने ब्लॉग का डिजाईन काफी simple और attractive बनाना है और साथ ही हमारे ब्लॉग का navigation बहुत ही आसान होना चाहिए | हमारे ब्लॉग के सभी पेज एक दुसरे से कनेक्ट होने जरुरी हैं ताकि जब भी कोई विजिटर हमारे ब्लॉग पर आये तो वो easily समझ सके की हमारे ब्लॉग किस टॉपिक के बारे में है और इसके साथ ही हमारे ब्लॉग पर एक पेज दुसरे पेज पर easily आ-जा सके और लोग ज्यादा से ज्यादा हमारे ब्लॉग पर टाइम spent कर सके जिससे हमारे SEO better होता है |

SEO क्या है और क्यों जरुरी है - पूरी जानकारी
SEO क्या है और क्यों जरुरी है – पूरी जानकारी

Title Tag or Meta Description

हमे अपने ब्लॉग पोस्ट के Title और मेटा डिस्क्रिप्शन में main कीवर्ड का इस्तेमाल करना होता है | title और meta डिस्क्रिप्शन क्या होता है ये आपको ऊपर इमेज देख कर समझ आ ही रहा होगा | साथ ही कीवर्ड के बारे मे मैंने आपको ऊपर बताया ही है की जो लोग आप गूगल पर सर्च करते हो जैसे SEO क्या है | तो ये एक कीवर्ड होता है | इसी कीवर्ड को टारगेट कर ब्लॉगर ब्लॉग -पोस्ट लिखते हैं जिससे गूगल के क्रॉलर ये समझ पाते हैं की ये पोस्ट SEO के बारे मे लिखा गया है और फिर वो उसे गूगल पर रैंक करते हैं |

टाइटल और मेटा डिस्क्रिप्शन मै कीवर्ड इस्तेमाल करने के साथ-साथ उसे catcy भी बनाये ताकि लोग जब भी उसे गूगल की लिस्ट पर देखें तो उस पर क्लिक करें |

पोस्ट का URL

पोस्ट का url हमेशा छोटा रखें और अपने पोस्ट के main कीवर्ड का इस्तेमाल पोस्ट के URL में जरुर करें | इससे भी आपके पोस्ट को गूगल मे रैंक होने मे काफी हेल्प मिलती है या ये कह सकते हैं ये भी SEO का एक बहुत important factor है |

High-क्वालिटी कंटेंट

अगर आप मुझसे पूछोगे की आखिर अपने पोस्ट को गूगल के फर्स्ट पेज पर लाने के लिए कोई एक चीज़ बताये जिस पर हमे सबसे ज्यादा फोकस से करनी चाहिए| तो मै कहूँगा की क्वालिटी पोस्ट लिखें |

आप जिस भी टॉपिक के बारे मे पोस्ट लिख रहे है उसे पूरा depth मे लिखे उससे रिलेटेड हर पॉइंट को कवर करें ताकि जो भी यूजर आपके पोस्ट को पढ़े तो उस यूजर के सारे douts clear हो जाएँ |

क्वालिटी कंटेंट से ये भी मतलब है की पोस्ट मे grammatically गलती ज्यादा न हो और अपने पोस्ट मे हैडिंग का जरुर इस्तेमाल करें जैसे h1,h2 और h3

साथ ही अपने पोस्ट को छोटे-छोटे paragraph मे लिखने का प्रयास करें | और पोस्ट लिखते समय इस बात का जरुर ध्यान रखें की अपने पोस्ट को ज्यादा seo के मुताबिक बनाने के चक्कर में बहुत ज्यादा कीवर्ड का इस्तेमाल भी न करें | अपनी पोस्ट को यूजर के लिए लिखें न की गूगल के लिए, अगर आपके पोस्ट को लोग पसंद करेंगे वहां पर ज्यादा टाइम spent करेंगे और शेयर करेंगे तो गूगल automatically आपके पोस्ट को फर्स्ट पोजीशन पर रैंक कर देगा इसलिए कंटेंट हमेशा यूजर के requirement के हिसाब से लिखें |

Internal linking

जब भी आप कोई पोस्ट लिख रहे हो तो उसमे अपने पुराने पोस्ट का लिंक जरुर add करें इससे आपके सभी पोस्ट एक-दुसरे से जुड़े रहेंगे जिससे यूजर को काफी आसानी होगी आपके ब्लॉग पर पोस्ट पढने में जिससे आपको अपने ब्लॉग का SEO बेहतर करने मे काफी हेल्प मिलेगी |

टेक्निकल SEO

टेक्निकल SEO होता है जैसे आपके ब्लॉग पर कुछ ऐसी फालतू फाइल्स होते हैं जो आपके SEO के स्कोर को घटा सकते हैं इसलिए आपको अपने ब्लॉग के seo ऑडिट करते रहना है गूगल पर आपको काफी सारे फ्री टूल्स मिलते हैं जहाँ आप अपने ब्लॉग के seo का technical प्रॉब्लम देख सकते हो इसके अलावा आप गूगल सर्च कंसोल पर भी अपने ब्लॉग error देख सकते हो |

आपको उन्हें फिक्स करना है | ये भी आपके ब्लॉग के SEO के लिए काफी इम्पोर्टेन्ट रोल प्ले करता है |

2- OFF page SEO

Off page SEO basically होता है की आप अपने ब्लॉग को आउटसाइड तरीके से प्रमोट करते हो | मतलब की आप अपने ब्लॉग के अन्दर कुछ नही करते हो बल्कि अपने ब्लॉग के लिंक को बाकि ब्लॉग पर प्लेस करने का प्रयास करते हो और वो ऐसे ब्लॉग पर जो आपके टॉपिक से रिलेटेड होते हैं और उनकी value गूगल पर काफी अच्छी होती है | इस process को हम normally Backlink कहते हैं |

Backlink भी एक on page SEO के बराबर ही इम्पोर्टेन्ट होता है आपके ब्लॉग पोस्ट को गूगल पर फर्स्ट पेज पर रैंक कराने के लिए |

Backlink तब बहुत important हो जाता है जब आपने जिस टॉपिक के बारे मे पोस्ट लिखा उसी टॉपिक के बारे मे already क्वालिटी पोस्ट गूगल पर मौजूद है तो इस केस मे गूगल के क्रॉलर उसी पोस्ट को ऊपर रैंक करते हैं जिनके पास क्वालिटी backlink होता है |

  2019 मे या इसके बाद भी अब हमे सिर्फ क्वालिटी backlink बनाने पर ही फोकस करना चहिये तभी हम गूगल के फर्स्ट पेज के फर्स्ट पोजीशन पर आ सकते हैं|

तो क्वालिटी backlink बनाने के कुछ तरीके होते हैं जैसे –

Guest पोस्टिंग

हम अपने ब्लॉग से रिलेटेड किसी other फेमस ब्लॉग पर पोस्ट लिखते हैं और वहां पर अपने ब्लॉग पोस्ट का लिंक भी देते हैं तो इससे हमे ट्रैफिक के साथ-साथ एक क्वालिटी backlink भी मिलता हैं जिससे हमारा seo स्कोर काफी ज्यादा improve होता है |

सोशल मीडिया पर शेयर करें

अपने ब्लॉग से रिलेटेड पेज सभी सोशल मीडिया पर create करे और regularly वहां पर पोस्ट को शेयर करें और वहां पर अपने followers को increase करें क्योंकि अब गूगल उन आर्टिकल को भी टॉप पर शो करता हैं जिन्हें सोशल मीडिया पर अच्छा response मिलता है |

सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM) और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) में अंतर
सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM) और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) में अंतर

सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM) और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) में अंतर

सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM)- ये एक paid तरीका हैं अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने का| जहाँ हम गूगल को पैसे देते हैं अपने ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल एक फर्स्ट पेज पर शो कराने के लिए |

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) – ये एक फ्री तरीका है अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर गूगल के सेर्च इंजन के through ट्रैफिक लाने का | इसमे हमे किसी भी प्रकार की कोई इन्वेस्टमेंट करने की जरुरत नही होती बल्कि इसमे हमे कुछ चीजों को ध्यान मे पोस्ट लिखना होता है और फिर हम गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक हो सकते हैं |

Final words

मुझे पूरी आशा है की आपको मेरे इस पोस्ट के द्वारा अब अच्छे से समझ आ ही गया होगा की SEO क्या है और SEO क्यों हमारे ब्लॉग के लिए जरुरी है इसके अलावा SEO कितने प्रकार के होते हैं | अगर आपका कोई भी सुझाव हमारे इस पोस्ट या फिर हमारे ब्लॉग के बारे में हो तो हमे जरुर कमेंट करके बताएं |

Sharing is caring!

(Visited 622 times, 1 visits today)

Deepak Bhandari

Hello friends! मै DeepakBhandari.in का फाउंडर हूँ, मुझे डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन बिज़नेस से related टॉपिक के बारे मे जानना और साथ ही उस जानकारी को लोगों के साथ शेयर करना काफी अच्छा लगता है | इस ब्लॉग के जरिये मेरी कोशिश है की आप लोग अपने बिज़नेस या करियर को ऑनलाइन grow कर पायें |

19 thoughts on “SEO क्या है और क्यों जरुरी है – पूरी जानकारी

  1. Thank You! For sharing such a great article, It’s been a amazing article.It’s provide lot’s of information, I really enjoyed to read this,i hope, i will get these kinds of information on a regular basis from your side.

  2. naveen sir

    sbse phle apne content ko user friendly banaye
    second backlink quality backlink banaye.
    website se related pages sabhi social media plateform pr create kare or regular basics pr apne website se related
    post wahan pr share krte rhe logon se connect hone ka pryas kare.

  3. Hi there! I could have sworn I?ve visited your blog before
    but after browsing through many of the articles I realized it?s new to
    me. Anyhow, I?m certainly pleased I stumbled upon it and I?ll be book-marking it and checking back often!

  4. This is the perfect web site for everyone who hopes to find out about this topic.
    You know so much its almost tough to argue with you (not that I really would want to?HaHa).
    You certainly put a new spin on a subject that’s been discussed for ages.
    Great stuff, just great!

  5. If members are constantly asking “how do I do this” or “what is that this thing for”, write articles regarding
    it and send them right through to it having a link.
    Of course, you can certainly justify ROI in the event you work mainly on building free backlinks.
    A fairly short article should only need around thirty minutes to compose and after that a couple of minutes to spin.

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *