सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने – पाएं step-by-step पूरी जानकरी

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने - पाएं step-by-step पूरी जानकरी

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने – आज के समय में जब कंप्यूटर और इन्टरनेट का इतना तेज़ी से प्रयोग हो रहा है | तो साथ ही इन चीजों से जुड़े लोगों की डिमांड भी बहुत ज्यादा है |

जैसे सॉफ्टवेयर इंजीनियर हालाँकि ये शब्द बहुत ही प्रचलित है |आप हमेशा सुनते ही होंगे माता-पिता के मुह से की उन्हें अपने बेटे को या तो डॉक्टर बनाना है या फिर इंजीनियर जिसमे सॉफ्टवेयर इंजीनियर भी प्रमुख तौर पर होता है |

लेकिन दुःख की बात ये है की ज्यादातर लोगों को सॉफ्टवेयर इंजीनियर क्या है ,actual में इसमें क्या-क्या काम होता है और हम कैसे अपना करियर इसमें बना सकते हैं इसके बारे में ज्यादा कुछ पता नही होता | जिसका परिणाम ये होता है की जब हम सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग का कोर्स करते हैं तो हमे वो समझ ही नही आता या फिर हमारा उसमे ज्यादा इंटरेस्ट नही होता और हम कोर्स को सही से कर ही नही पाते और उसके बाद हमे जॉब भी नही मिलती है| जबकि सॉफ्टवेर इंजीनियर की डिमांड हमेशा से ही बहुत ज्यादा रहती है IT इंडस्ट्री में |

तो आज के इस बहुत ही खास पोस्ट में, मै आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने इसके बारे में पूरी detail में जानकरी देने वाला हूँ और मुझे पूरा भरोसा है की जब आप इस पोस्ट को पूरा पढोगे तो आपके मन के सारे संदेह सॉफ्टवेर इंजीनियरिंग को लेकर खत्म हो जायेंगे |

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने ये जानने से पहले ये जानते हैं की सॉफ्टवेर इंजीनियरिंग आखिर होती क्या है |

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग क्या है

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग एक विस्तृत अध्ययन है सॉफ्टवेर के डिजाईन,विकास और रखरखाव का|

basically किसी भी सॉफ्टवेयर को यूजर के मुताबिक डिजाईन करना और वो सॉफ्टवेयर पुरे तरीके से यूजर की हेल्प के लिए हमेशा अच्छे से काम करें इसी चीज़ का पूरा अध्ययन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में किया जाता है |

तो basically आप समझ ही गये होंगे की जितने भी सॉफ्टवेयर होते हैं उन्हें develop करना और वो कैसे सही से काम करें ये सभी सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में आता है और जब आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर का कोर्स करते हो तो आप ये सबकुछ सीखते हो |

GOOGLE क्या है,कैसे बना और कैसे पैसे कमाता है – पूरी जानकरी

आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग करते समय काफी सारे coding लैंग्वेज को सीखाया जायेगा | जैसे- C, C++, Java, C#, आदि | इन्ही सभी के मदद से आप सॉफ्टवेयर बनाना सीखते हो |

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए eligibility क्या होनी चाहिए

अब आप ये तो समझ गये की सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग क्या होता है लेकिन अगर आप सोच रहे हैं सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने की, तो आपके अंदर क्या-क्या Eligibility होनी चाहिए ताकि आप अपना करियर बना सको इस फील्ड मे वो मै आपको नीचे कुछ पॉइंट्स के जरिये बताता हूँ –

1 – सबसे पहले तो सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग का कोर्स करने के लिए आपको 12th विज्ञान वर्ग से उत्तीर्ण होना जरुरी है |

2- दूसरा है आपका इंटरेस्ट कंप्यूटर के बारे में हो तभी आप कोडिंग लैंग्वेज को समझ सकते हो क्योंकि कोडिंग लैंग्वेज बहुत ही पेचीदा जरूर होते हैं और अगर आपका उनमे इंटरेस्ट नहीं है तो आप जल्दी सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के कोर्स से Boring हो सकते हो, आपका फोकस हट सकता है इसलिए कंप्यूटर से रिलेटेड चीज़ों में इंटरेस्ट होना बहुत ही जरुरी है |

3- अगर आप एक बढ़िया सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते हो तो आपके अंदर मजबूत logical and analytical skills होना बहुत जरुरी है |

4- और अगर हम सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए टेक्निकल नॉलेज की बात करें तो आपको सभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे – C, C++, Java, C#, आदि आना जरुरी है |

5- इन सब चीज़ों के अलावा एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को प्रॉब्लम सॉल्विंग सोच वाला होना जरुरी है साथ ही टीम वर्किंग स्किल्स भी होना बहुत जरुरी है |

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने

अब जानते हैं की आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने तो अब मै आपको step -by -step बताता हूँ –

कंप्यूटर की बेचलर डिग्री कोर्स करें

सॉफ्टवेयर इंजिनियर बनने की कड़ी में सबसे पहला पड़ाव होता है की आप 12th पास होने के बाद किसी अच्छे से कंप्यूटर कॉलेज से कंप्यूटर की बेचलर डिग्री कोर्स करें जैसे कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग , BCA और बैचलर ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी जो की 4 साल के होते हैं |

इन सभी में से कोई एक कोर्स आप कर सकते हो जिसमे आप कंप्यूटर के प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे java,sql,PHP और C++ आदि के बारे में सीखते हो |

बेस्ट कम्प्यूटर डिग्री कोर्स कॉलेज के बारे में जानने के लिए क्लिक करें

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को मजबूत करें

एक सफल सॉफ्टवेयर इंजीनियर वही होता है जिसको प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की काफी अच्छी जानकारी होती है इसलिए कोर्स करते हुए अपनी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को बेहतर बनाने का प्रयास जरुर करें |

साथ ही कोर्स के समय ही खुद सॉफ्टवेयर बनाने की कोशिश भी जरुर करें |

java,python,Ruby,C or SQL ये सभी लैंग्वेज सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में बहुत जरुरी होते हैं इसलिए आपको इन सभी लैंग्वेज को सीखना और practices करना है |

ये 10 चीज़ों के बारे में जानना एक सॉफ्टवेयर डेवलपर के लिए बहुत ही जरुरी है जानने के लिए क्लिक करें

इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें

जब आप अपना बेचलर डिग्री कोर्स कम्पलीट कर लेते हो तो आपको तुरंत किसी कंपनी में सॉफ्टवेर डेवलपर की इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करना है ये आपके करियर का बेस्ट phase होगा हालाँकि शुरू में आपकी सैलरी जरुर कम होगी लेकिन सीखने को मिलेगा और साथ ही आपको पता भी लगेगा की इंडस्ट्री में कैसे काम होता है| जो आगे आपके करियर के लिए बहुत ही फायदेमंद होगा |इसलिए शुरू में Learning पर ज्यादा फोकस करें बजाय की Earning के |

कंप्यूटर लैंग्वेज में मास्टर डिग्री कोर्स करें

बेचलर डिग्री करने के बाद आप कंप्यूटर साइंस में मास्टर डिग्री भी कर सकते हैं | जैसे MCA, मास्टर इन कंप्यूटर साइंस जिसके बाद आपको किसी भी कंपनी में सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में काफी अच्छी सैलरी मिल सकती है |

सॉफ्टवेयर इंजिनियर बनने के लिए किये जाने वाले कोर्स

Bachelor’s course : 3-4 साल के डिग्री कोर्स

Bachelor of technology (B.Tech) in computer science and Engineering – 4 years

Bachelor of technology (B.Tech) in information technology – 4 years

Bachelor or computer science (BCA)- 3 years

Bachelor of science in Computer science/ information technology -3 years

Master’s course -2 से 3 साल के कोर्स

Master of technology (M.Tech) – 2 years

Master of science in information technology – 2 years

Master of computer science (MCA)- 2 years

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की कितनी सैलरी होती है

शुरूआती दिनों में जब आप कंप्यूटर से रिलेटेड डिग्री कोर्स करने के बाद इंटर्नशिप करते हो तो आपकी सैलरी लगभग 15 से 20 हज़ार होती है |

और जब आपको कुछ साल सॉफ्टवेयर डेवलपिंग में एक्सपीरियंस हो जाता है तब आपको लगभग 40 से 50 हज़ार तक आपकी सैलरी हो सकती है और इसके बाद ये बढ़ता ही रहता है |

अधिक जानने के लिए क्लिक करें

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में क्या स्कोप है

पूरी दुनिया खासकर इंडिया में जिस तरीके से कंप्यूटर और इन्टरनेट का चलन तेजी से बढ़ रहा है तो सॉफ्टवेयर बनाने वाले एक्सपर्ट लोगों की डिमांड भी उतनी ही ज्यादा बढ़ रही है क्योंकि ऑनलाइन बिज़नस करने वाले हर दिन बढ़ रहे हैं और उन्हें जरुरत होती है सॉफ्टवेयर बनाने के लिए सॉफ्टवेयर डेवलपर की |

हालंकि जो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सॉफ्टवेर डेवलपिंग में प्रयोग किये जाते हैं वो समय-समय पर अपडेट होते रहते हैं इसलिए एक सॉफ्टवेयर डेवलपर को हमेशा खुद की स्किल्स को अपडेट करने की जरुरत रहती है तभी वो अपने करियर में ग्रोथ कर सकता है |

ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए ,जानिए 10 बेहतरीन तरीकों से – पूरी जानकारी

एक सॉफ्टवेर डेवलपर का काम सिर्फ सॉफ्टवेयर बनाना नही बल्कि वो सही से हर सिचुएशन में काम करे ये भी देखना होता है इसलिए सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग का स्कोप असीमित है |

और अगर आपका इंटरेस्ट कंप्यूटर में है आपको कंप्यूटर के बारे में सीखना अच्छा लगता है तो आपको बिना किसी देरी के सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग का कोर्स शुरू कर देना चाहिए और निश्चित तौर पर आपका करियर बहुत ज्यादा bright बनेगा |

Final words

मुझे पूरी आशा है की मेरे इस पोस्ट को पढने के बाद आप अच्छे से जान ही गये होंगे की सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने |

अगर आपको मेरा ये पोस्ट हेल्पफुल लगा तो इसे जरुर अपने बाकि दोस्तों में शेयर करें ताकि उन्हें भी अपने करियर को लेकर एक अच्छी जानकरी मिल सके |

अगर आपका कोई भी सुझाव या सवाल हमारे इस पोस्ट या फिर हमारे ब्लॉग को लेकर है तो आप हमे कमेंट करके बता सकते हैं |

Sharing is caring!

(Visited 114 times, 2 visits today)

Deepak Bhandari

Hello friends! मै DeepakBhandari.in का फाउंडर हूँ, मुझे डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन बिज़नेस से related टॉपिक के बारे मे जानना और साथ ही उस जानकारी को लोगों के साथ शेयर करना काफी अच्छा लगता है | इस ब्लॉग के जरिये मेरी कोशिश है की आप लोग अपने बिज़नेस या करियर को ऑनलाइन grow कर पायें |

3 thoughts on “सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने – पाएं step-by-step पूरी जानकरी

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *