विज्ञापन क्या है (what is advertisement in hindi)- उद्देश्य,प्रकार और महत्व

विज्ञापन क्या है (what is advertisement in hindi)- उद्देश्य,प्रकार और महत्व

आजकल हम अपनी दैनिक जीवन में लाखों बार अलग-अलग प्लेटफार्म पर विज्ञापन देखते रहते हैं आखिर ये विज्ञापन क्या हैं और इसका महत्व क्या है आज के इस खास पोस्ट में हम यही जानने वाले हैं |

हम जब भी मोबाइल में ऑनलाइन म्यूजिक सुनते हैं तो हमे विज्ञापन दिखाई देते हैं ,हम youtube पर कुछ देखते हैं तो हमें विज्ञापन दिखाई देते हैं यहाँ तक की हम जब भी वेबसाइट गूगल पर सर्च करते हैं तो ज्यादतर वेबसाइट पर हमें अलग-अलग कंपनी के विज्ञापन देखने को मिलते हैं |

हालाँकि हम मे से लगभग सभी लोगों को विज्ञापन के बारे मे ये तो पता है ही की कंपनी अपने प्रोडक्ट या सर्विस की मार्केटिंग के लिए अलग-अलग तरीके से ads बनाकर अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे लोगों को बताते हैं जैसे text,बैनर,विडियो और एनीमेशन इन सभी के जरिये कंपनी अपना मार्केटिंग करते हैं |

और आज के समय में जब मार्किट में आप जैसे प्रोडक्ट सेल करने वाले या फिर वही सर्विस देने वाले हजारों बिज़नसमेन आ चुके तब अपने प्रोडक्ट के बारे लोगों को विज्ञापन के जरिये बताने की आवश्यकता और अधिक बढ़ जाती है | साथ ही आज के समय में जब सारे लोग सोशल मीडिया और गूगल पर हैं तो वहां पर आपको अपने प्रोडक्ट को visible कराने का एक ही रास्ता होता है ads |

और यही वजह है की आज के समय में लगभग सभी बड़ी-छोटी कंपनी बहुत ज्यादा इन्वेस्ट विज्ञापन करने में करती हैं |

और एक बहुत प्रसिद्ध कहावत भी तो है “जो दिखता है वही बिकता है “

अब आपको विज्ञापन, आज के समय में कितना महत्वपूर्ण है इस बात का अंदाजा इसी बात से लग जायेगा की दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार गूगल और फेसबुक का सबसे ज्यादा रेवेनुए इन्ही ads को अपने प्लेटफार्म पर दिखाकर बनता है |

जहाँ गूगल अपने प्लेटफार्म Google adwords पर कंपनी को अपने प्रोडक्ट से रिलेटेड ads बनाने की सुविधा देता है और साथ ही उन ads को अपने सर्च इंजन में show भी कराता है जिसके बदले में वो कंपनी से पैसे लेता है |

तो वही फेसबुक भी कंपनी को अपने प्लेटफार्म पर paid ads run करनी की परमिशन देता है और अपना सबसे ज्यादा रेवेनुए यहीं से बनाता है |

तो अब आपकी जिज्ञासा को समाप्त करते हुए मैं आपको अब सीधे बताने वाला हूँ की आखिर ये विज्ञापन क्या है |

विज्ञापन क्या है

विज्ञापन एक कम्युनिकेशन का तरीका है प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में यूजर को बताने का , तो basically विज्ञापन के जरिये ही कंपनी अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में लोगों को बड़े ही आकर्बषक तरीके से बताने का प्रयास करते हैं |ताकि लोग हमारे प्रोडक्ट के बारे में इंटरेस्ट लें और ये विज्ञापन टेक्स्ट,विडियो या इमेज के फॉर्म में हमें दिखाई देते हैं |

for example – जैसे आपने देखा ही होगा की कई सारे पब्लिक प्लेस पर अलग-अलग कंपनी के बड़े-बड़े होल्डिंग या बैनर लगे होते हैं जो उनके प्रोडक्ट के बारे में हम लोगों को अपनी तरफ attract करते हैं या हमें अपने प्रोडक्ट के बारे में बताते हैं |

इसके अलावा भी आपने टीवी,fm radio,newspaper और इन्टरनेट इन सब पर बैनर,विडियो और इमेज के फॉर्म में कई सारे ads देखे ही होंगे जो किसी न किसी कंपनी के प्रोडक्ट को प्रोमट करते रहते हैं और ये सभी ads paid ही होते हैं मतलब जो कंपनी अपने ads टीवी,newspaper ,पब्लिक प्लेस और ऑनलाइन पर इन्हें चलाती है उसे इन सभी को पैसे देने पड़ते हैं |

SEARCH ENGINE MARKETING (SEM) क्या है और कैसे काम करता है – पूरी जानकारी

तो अब आपको ये तो समझ आ गया होगा की विज्ञापन क्या है, की जब कोई कंपनी अपने प्रोडक्ट या सर्विस को प्रोमट करने के लिए आकर्षक बैनर,विडियो बनाती है उसे विज्ञापन कहा जाता है |

विज्ञापन के उद्देश्य

जब भी कोई कंपनी अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए विज्ञापन बनाती है तो उसके पीछे उसके कुछ खास उद्देश्य जुड़े होते हैं जिन्हें मै आपको नीचे बताने जा रहा हूँ |

1- विज्ञापन बनाने के पीछे यही कंपनी का उद्देश्य होता है की अपने प्रोडक्ट की सेल सबसे ज्यादा हो या फिर मेरे सर्विस को लेकर लोग ज्यादा से ज्यादा मेरे से inquiry करें |

2- जब कंपनी अपना कोई नया प्रोडक्ट लांच करती है या फिर अपने पुराने प्रोडक्ट को अपडेट करती है तो ये सब वो लोगों को बताने के लिए विज्ञापन का ही सहारा लेती है | आपने देखा ही होगा की जैसे कोई कार की कंपनी हैं जिसने अपने पुराने मॉडल वाले कार में कुछ बदलाव करके उसे अपडेट किया है तो वो कंपनी अब टीवी पर विडियो ads के जरिये या फिर newspaper और ऑनलाइन बैनर के जरिये उन बदलाव के बारे में लोगों का बताने का प्रयास करते हैं |

3- सभी वो कंपनी जो किसी भी प्रोडक्ट की सेल करती है जब कोई ऑफर देती है तो उस ऑफर के बारे में लोगों को बताने के लिए अलग-अलग प्लेटफार्म पर विज्ञापन चलाती हैं जैसे jio का आप example ले लो की जिओ ने जब free डाटा वाली स्कीम चलाई तो लोगों को उसके बारे में इन्ही विज्ञापन से ही पता लगा | तो कंपनी के ऑफर को भी लोगों तक पहुचाने का ये उद्देश्य भी विज्ञापन से ही पूरा होता है |

4- किसी भी ब्रांड की अगर वैल्यू बढ़ानी हो तो कंपनी उसके attractive विज्ञापन चलाती हैं ताकि लोग उस ब्रांड के बारे में न सिर्फ जान सके बल्कि उसके तरफ attract भी हो जाएँ तभी आपने कई बार देखा होगा की विराट कोहली puma के जूते या फिर कपड़े पहनकर photos में होते हैं इसके पीछे भी कंपनी का उद्देश्य यही होता है की लोग puma ब्रांड पर trust करें |

5 – लोग प्रोडक्ट की क्वालिटी परtrust करें इसके लिए भी कंपनी विज्ञापन ही चलाती हैं और उसमे बताने का प्रयास करती हैं की ये प्रोडक्ट कितना क्वालिटी वाला है |

6 – अगर आप बिलकुल new स्टार्टअप हो तो लोग आपको जाने इसके लिए भी कंपनी विज्ञापन का ही सहारा लेते हैं |

7- और एक बहुत ही प्रसिद कहावत भी है की जो दिखता है वही बिकता है तो कंपनी का यही उद्देश्य होता है की अपने प्रोडक्ट का विज्ञापन इतना अच्छा बनाये जाये की लोगों को वो अपनी तरफ खीच सके और लोगों के दिलों में वो विज्ञापन छा जाये ताकि हमारा प्रोडक्ट की सेल increase हो जाये |

विज्ञापन के प्रकार

विज्ञापन mainly 10 प्रकार के होते हैं | तो चलिए उनके बारे मे बात करते हैं अभी तक आपने विज्ञापन क्या है और इसके क्या उद्देश्य हैं इसके बारे मे जान ही लिया है |

और basically मैं आपको जिन विज्ञापन के प्रकार बताने जा रहा हूँ वो सभी आज के समय के हैं क्योंकि आप सभी ये तो जानते हैं की इन्टरनेट के आने से अब विज्ञापन करने के मायने ही बदल गये हैं जहाँ पुराने तरीके अब समाप्त होते जा रहे हैं और नये तरीके पनप चुके हैं और कंपनी भी अब उन्ही नये तरीकों से विज्ञापन करने लगी हैं तो आज हम उन्ही नये तरीकों की बात करने वाले हैं

SEO क्या है और क्यों जरुरी है – पूरी जानकारी

1 – Display Ads

Display Ads आपको newspaper और ऑनलाइन दिखाई देते हैं जैसे newspaper में आपने देखा ही होगा की कई सारे पेज पर किसी पर्टिकुलर प्रोडक्ट के बारे में बैनर बना होता है और ऑनलाइन आपने कई सारे वेबसाइट पर देखा होगा की साइडबार या टॉप में कई सारे कंपनी के ad बैनर के रूप में होते हैं जैसा की आप ऊपर इमेज में भी देख पा रहे होंगे |ये सभी display ads होते हैं |

GOOGLE ADWORDS(ADS) क्या है,कैसे काम करता है और इसके क्या फायदे हैं

ऑनलाइन आपको गूगल के सर्च रिजल्ट में भी अलग-अलग कंपनी के ad होते हैं जिसे हम paid ads कहते हैं | यहाँ जब लोग गूगल पर कोई query सर्च करते हैं तो यूजर को उन्ही से रिलेटेड oraganic लिस्ट के अलावा कुछ paid लिस्ट भी show होती हैं वो भी डिस्प्ले ads ही होते हैं | ये आजकल बहुत ही प्रचलति हो रखा हैं | सभी कंपनी बहुत ज्यादा इन्वेस्ट इस तरीके के विज्ञापन बनाने और चलाने में कर रहीं हैं और इसका सबसे बड़ी वजह यही है की लोग अब सबसे ज्यादा ऑनलाइन रहते है और जबकि मार्केटिंग की दुनिया में कहा ही जाता है की वहां रहिये जहाँ आपके ग्राहक हैं |

PPC (PAY PER CLICK) क्या है, क्यों जरुरी है और कैसे काम करता है

2 – Social Ads

आजकल आप सभी लोग फेसबुक,instagram,ट्वीटर और linkedin का प्रयोग करते ही हैं और कंपनी इसी चीज़ को देखकर की लोग आजकल अपना सबसे ज्यादा समय इन्ही सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर बिताते हैं इसलिए इन सभी प्लेटफार्म पर विज्ञापन चलाते हैं ताकि उनके प्रोडक्ट में रूचि रखने वाले लोग सोशल मीडिया के जरिये उनके वेबसाइट तक पहुच पाए |

और ये सभी सोशल मीडिया के प्लेटफार्म कंपनी को ads चलाने की अनुमति देते हैं जिसके लिए उन्होंने अपने अलग प्लेटफार्म ही बनाया हुआ है | फेसबुक इन सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म में सबसे अधिक प्रचलति है इसलिए सभी कंपनी अपना सबसे ज्यादा विज्ञापन फेसबुक पर ही चलाते हैं हालाँकि ये सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पैसे लेकर विज्ञापन चलाने की अनुमति कंपनी को देते हैं |

3- Newspaper or magazine

Newspaper or magazine में जो विज्ञापन चलाये जाते हैं वो traditional form of advertising है | जिसमे कंपनी अपने प्रोडक्ट या सर्विस से रिलेटेड बैनर या text add को newspaper या मैगज़ीन के पेज पर प्लेस करती

हैं जिसके लिए newspaper और मैगज़ीन ओनर उन्हें चार्ज भी करते हैं | कुछ समय पहले तक जब तक इन्टरनेट इतना पोपुलर नही था तो इस प्रकार के विज्ञापन काफी प्रभावशाली होते थे और यही वजह थी की कंपनी बड़ी सी बड़ी रकम देकर अपनी ads newspaper और मैगज़ीन में चलाते थे |

4- Outdoor Ads

आपने अलग-अलग पब्लिक प्लेस जैसे हाईवे, मेट्रो स्टेशन ,बड़े-बड़े मार्किट वाले स्थान या फिर किसी भीड़ -भाड़ वाले इलाके में कई सारे कंपनी के विज्ञापन जो की बड़े बड़े बैनर,होल्डिंग इन सब के रूप में लगे होते हैं ये सभी outdoor advertisment के प्रकार हैं |

5- Radio and podcasts ADs

हालाँकि podcasts तो अभी प्रचलन में आया है लेकिन रेडियो एक पुराना ही तरीका है विज्ञापन का, आपने कई सारे रेडियो चैनल में जरुर सुना होगा की जैसे ही कुछ गाने सुनाई देने के बाद कुछ समय तक लिए अलग-अलग कंपनी के ads चलने शुरू हो जाते हैं |और ये सभी विज्ञापन आपको बार-बार रिपीट करके सुनाये जाते हैं |

6 – Video Ads

जब भी आप टीवी देखते हैं तो बीच-बीच में आप देखते होंगे की अलग-अलग कंपनी के ad चलने शुरू हो जाते हैं | जैसे- मैच के दौरान आपने देखा ही होगा की हर ओवर समाप्त होने के बाद कुछ समय के लिए विज्ञापन चलने शुरू हो जाते हैं | TV पर चलाये’ जाने वाले ये ads बहुत ही प्रभावी माने जाते थे लेकिन अब इन्टरनेट के विस्तार से youtube का चलन काफी प्रचलति हो चूका है |और अब आपने देखा ही होगा की जब भी आप youtube पर कोई विडियो चलाते हो तो उसके शुरुआत में या बीच में कंपनी के ad चलने शुरू हो जाते हैं ये सभी विडियो ads होते हैं |

7 – Direct mail or personal sales

Direct mail, भी अपने आप में एक एडवरटाइजिंग का आर्ट है की आप अपने प्रोडक्ट के बारे में पर्सनली कैसे यूजर को engage करते हो ताकि वो आपके प्रोडक्ट को purchase कर सके |

इसके अलवा आप पर्सनल sale यानि सेल्समेन के जरिये भी अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में लोगों को बताते हो जैसे की आपने देखा होगा कई पब्लिक जगह पर कई प्रकार के बैंक वाले होते हैं जो आपको अपने बैंक की खास ऑफर के साथ-साथ आपके अकाउंट,क्रेडिट कार्ड इन सभी प्रॉब्लम को solve करते हैं |

8 – Product placement

इस तरह के विज्ञापन ज्यादा से ज्यादा देखे जाते हैं। यदि आप अपने उत्पाद का उपयोग करने का उल्लेख करने के लिए पॉडकास्ट होस्ट का भुगतान करते हैं या एक चरित्र दिखाने के लिए एक टेलीविज़न शो का भुगतान करते हैं जो आपकी सेवा के बारे में बात कर रहा है या उपयोग कर रहा है, तो वह है उत्पाद प्लेसमेंट। आप इस प्रकार के विज्ञापन के बारे में लोकप्रिय YouTube चैनल होस्ट से भी बात कर सकते हैं।

9 – Event marketing

किसी भी स्पोर्ट्स टीम को स्पोंसर करना या फिर किसी चैरिटी को भुगतान करके भी अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग की जाती है | इसका मुख्य उद्देश्य यही होता है की एक बड़े वर्ग को अपने ब्रांड के बारे अवगत कराया जाये | और वो उस घटना से जुड़ें |

10 – Email Marketing

email marketing में पूरा फोकस उन्ही पर होता है जो लोग आपके newsletter को सब्सक्राइब करते हैं | कंपनी द्वारा उन्हें attracting मेल के जरिये अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में बताया जाता है |

Email मार्केटिंग के जरिये आपके loyal customer बनते हैं |

विज्ञापन का महत्व

किसी भी कंपनी के लिए अपने प्रोडक्ट की एडवरटाइजिंग बहुत ही इम्पोर्टेन्ट है, मै आपको नीचे कुछ पॉइंट्स के जरिये विज्ञापन का महत्व क्या है ये बताने जा रहा हूँ |

1 ) – विज्ञापन ही एक ऐसा जरिया है जिसके जरिये लोग आपके प्रोडक्ट या सर्विस के बारे जान पाते हैं या फिर अगर आपने अपने प्रोडक्ट को कुछ अपडेट किया है या फिर उसमे कुछ ऑफर देकर आप सेल कर रहे हो तो इन सबकी जानकारी देने के लिए भी आप विज्ञापन का प्रयोग करते हो |

2)- newspaper,tv और बहुत ही सारी ऑनलाइन वेबसाइट का प्राइमरी इनकम source ही advertisement से होता है | मतलब कंपनी के विज्ञापन अपने प्लेटफार्म दिखाकर वो उनसे चार्ज लेते हैं | उनका रेवयूए इसी से बनता है |

3 )- सोसाइटी को अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे educate करने के लिए भी और अपने प्रोडक्ट की सेल्स को increase करने के लिए भी आपको विज्ञापन की ही जरुरत पडती है |

4 ) – लोगों के दिलों में आपके ब्रांड के प्रति एक छाप बने ये सब विज्ञापन के जरिये ही सम्भव हो सकता है | लोग तभी आपके बारे में जान पाएंगे जब आप उन्हें attracting विज्ञापन के जरिये बताने के प्रयास करते हो |

5) – आज के समय में अगर आप अपने प्रोडक्ट या सर्विस की मार्केटिंग नही करते हो तो आप मार्केट में स्टैंड नही कर सकते हो भले ही आपके पास कितनी ही क्वालिटी वाला प्रोडक्ट क्यों न हो या फिर आप कितनी ही अच्छी सर्विस क्यों न देते हो | लेकिन जब तक आप लोगों को अपने प्रोडक्ट और सर्विस के बारे में नही बताओगे तो उन्हें पता नही चलेगा क्योंकि आज के समय आपके आस पास आपके बहुत सारे competitors हैं |

ऑनलाइन advertisement क्यों offline advertisement की तुलना में ज्यादा प्रभावी है

आज के समय में लगभग सारी कंपनी अपने विज्ञापन को अब ऑनलाइन तरीके से लोगों को दिखाते हैं जिससे ऑफलाइन एडवरटाइजिंग की वैल्यू कम होती जा रही है और इसके इफेक्टिव वजह भी हैं |

सबसे पहले तो इन्टरनेट लोगों के पास अब बहुत ही आसानी से पहुच जाता है | इसलिए अब लोग न सिर्फ सबसे ज्यादा इन्टरनेट से जुड़ चुके हैं बल्कि सोशल मीडिया ,गूगल और youtube पर लोग अपने दिन का सबसे ज्यादा समय स्पेंट करते हैं | तो जब सबसे ज्यादा लोग इन्टरनेट पर हैं और वहां पर अपना सबसे ज्यादा टाइम बिताते हैं तो क्यों न कंपनी अपना प्रोडक्ट इन्टरनेट विज्ञापन के जरिये दिखाए |

इसके अलावा इन्टरनेट के थ्रू आप बिलकुल ग्लोबल लेवल अपने प्रोडक्ट को दिखा सकते हो वो भी किसी भी टाइम पर समय का कोई पाबंद नही है क्योंकि इन्टरनेट लोगों के पास मोबाइल के रूप मे है वो उसे किसी भी समय में चला सकते हैं लेकिन ऑफलाइन में ऐसा नही होता | ऑफलाइन के जरिये आपके पास एक लिमिटेड एरिया तक ही और एक लिमिटेड समय तक ही आपके प्रोडक्ट के विज्ञापन को लोगों की visible हो सकता है |

साथ ही आप ऑनलाइन के जरिये आप अपने प्रोडक्ट को विज्ञापन के जरिये उन्ही लोगों को टारगेट करके दिखा सकते हो जो आपके प्रोडक्ट या सर्विस से इंटरेस्ट रखते हों | ये ऑफलाइन में नही होता है मान लीजिये आपने कोई बैनर किसी पब्लिक प्लेस पर लगाया अब उस पब्लिक प्लेस पर अलग-अलग इंटरेस्ट के लोग आते हैं काफी कम लोग होंगे जो आपके प्रोडक्ट के इंटरेस्ट रखते होंगे लेकिन ऑनलाइन में आप सिर्फ उन्ही लोगों को अपने ads show करोगे जो आपके प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में query करते हैं |

Final words

मुझे पूरी आशा है की मेरे इस पोस्ट के जरिये आप जान ही चुके होंगे की विज्ञापन क्या है, इसका उद्देश्य,प्रकार और महत्व क्या होते हैं | अगर आपका कोई भी सुझाव या सवाल हमारे इस पोस्ट या फिर हमारे ब्लॉग के बारे में है तो आप हमे कमेंट करके बता सकते हो |

Sharing is caring!

(Visited 40 times, 3 visits today)

Deepak Bhandari

Hello friends! मै DeepakBhandari.in का फाउंडर हूँ, मुझे डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन बिज़नेस से related टॉपिक के बारे मे जानना और साथ ही उस जानकारी को लोगों के साथ शेयर करना काफी अच्छा लगता है | इस ब्लॉग के जरिये मेरी कोशिश है की आप लोग अपने बिज़नेस या करियर को ऑनलाइन grow कर पायें |

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *